उक्कुनगरम में खेल की सुविधाओं के विकास को प्रोत्साहित करता आर आई एन एल    10-Oct-2018     Read in English


खेल के क्षेत्र में आर आई एन एल द्वारा हासिल राष्ट्रीय पहचान से अभिप्रेरित होकर राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने खिलाड़ियों, विभिन्न खेलों के स्थाई प्रशिक्षकों, अंतर्राष्ट्रीय व राष्ट्रीय पदक विजेताओं एवं खेल विभाग के कर्मचारियों से बात की तथा उन्हें आगे बढ़कर काम करने के लिए प्रोत्साहित किया। ‘नवोदित और युवा प्रतिभाओं की पहचान और पोषण’ की श्रेणी में आर आई एन एल को पहली बार भारत के माननीय राष्ट्रपति द्वारा ‘राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया है।  इस अवसर पर बोलते हुए श्री पी के रथ ने इस उपल्ब्धि हेतु वाइजाग स्टील के खेल विभाग की सराहना की।  उन्होंने सभी संबद्ध लोगों के प्रयासों की सराहना की और माना कि ऐसी उपलब्धि, प्रतिबद्धता और कड़ी मेहनत से ही हासिल होती है।उन्होंने बताया कि खेल के बुनियादी ढांचे को विकसित करने और उकुनगरम के परित: क्षेत्रों की प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने में आर आई एन एल सदैव अग्रणी रहा है।  राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड के निदेशक (कार्मिक) श्री किशोर चंद्र दास ने खेल विभाग के साथ-साथ प्रशिक्षकों एवं इस पुरस्कार को हासिल करने में सहयोग देनेवाले व खेल से जुड़े सभी लोगों की प्रशंसा की।  उन्होंने इस पुरस्कार को एक बड़ी उपलब्धि मानते हुए आर आई एन एल में खेल को निरंतर समर्थन का आश्वासन भी दिया।  कार्यपालक निदेशक (कार्मिक व औद्योगिक संबंध) श्री देबाशीष रे, महाप्रबंधक (मानव संसाधन) और वी एस पी स्पोर्ट्स कमेटी के अध्यक्ष श्री आर वी राव, महाप्रबंधक (तकनीक) श्री एल भास्कर, महाप्रबंधक (मानव संसाधन विकास) श्रीमती आर सुमी, उक्कुनगरम रोलर स्केटिंग एसोसिएशन के श्री भास्कर नायुडु, डॉ वी वी रमण राव और श्री के श्रीनिवास के साथ-साथ कई अन्य लोगों ने भी इस चर्चा में भाग लिया।  खेल विभाग के अध्यक्ष श्री एम एस कुमार ने खेल के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसा पाने हेतु खेल विभाग द्वारा किए गए सामूहिक प्रयासों के बारे में विस्तार से बताया।