सुरक्षा के प्रति सतर्क रहें: आर आई एन एल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ     06-Mar-2019     Read in English


आर आई एन एल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने नवनियुक्त प्रबंध प्रशिक्षणार्थियों एवं कनिष्ठ प्रशिक्षणार्थियों का आह्वान करते हुए कहा कि वे अपना ज्ञान, कौशल बढ़ाएँ एवं अपने कार्यक्षेत्र में आगे बढ़ने हेतु अनुशासन को अपनी आदत बनायें।  उन्होंने कहा कि इसके लिए सभी को प्रतिबद्धता एवं निष्ठापूर्वक कार्य करने की आवश्यकता है।  श्री रथ ने आज उक्कुनगरम में समावेशन कार्यक्रम के उद्घाटन के पश्चात प्रबंध प्रशिक्षणार्थियों से विचार-विमर्श किया। प्रशिक्षणार्थियों को संबोधित करते हुए श्री रथ ने उन्हें टीम भावना के विकास एवं सुरक्षा के प्रति सतर्क रहने तथा सुरक्षित कार्य संस्कृति को अपनाने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि इस्पात धातुओं में सर्वश्रेष्ठ है और प्रबंध प्रशिक्षणार्थियों को संयंत्र में अपनाई गई तकनीक की जानकारी हासिल करने की सलाह दी।  उन्होंने बताया कि आर आई एन एल अत्यंत बेहतर कार्य पद्धतियों को अपनाते हुए पर्यावरण को स्वच्छ एवं हराभरा बनाये रखने में अग्रणी रहा है। निदेशक (वाणिज्य) श्री पी रायचौधरी, निदेशक (कार्मिक) श्री के सी दास, निदेशक (वित्त) श्री वी वी वेणुगोपाल राव ने अपने वक्तव्य में अनुशासन को अपनी आदत बनाने एवं सुरक्षा मानकों को अत्यंत प्राथमिकता देने पर जोर दिया।  आर आई एन एल द्वारा संयंत्र के लिए 55 प्रबंध प्रशिक्षणार्थियों (एम टी) एवं उत्तर प्रदेश में स्थापित होनेवाले फोर्ज्ड व्हील संयंत्र के लिए पहली बार 50 कनिष्ठ प्रशिक्षणार्थियों को नियुक्त किया गया। महाप्रबंधक (प्रशिक्षण व मानव संसाधन विकास) श्री बी बी आर वर्धनम ने सभा का स्वागत किया। सहायक महाप्रबंधक (प्रशिक्षण) श्री भूपति ने आभार निवेदन प्रस्तुत किया।