आर आई एन एल-वी एस पी ने रिकार्ड 20,844 करोड़ रुपए का कारोबार किया : अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ    01-Apr-2019     Read in English


आर आई एन एल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने कहा कि कंपनी ने हाल ही में समाप्त वित्तीय वर्ष 2018-19 के दौरान पिछले वर्ष की इसी अवधि के 16,625 करोड़ रुपए की तुलना में 25% प्रभावी वृद्धि सहित 20,844 करोड़ रुपए के उच्चतम बिक्री कारोबार का श्रेष्ठ निष्पादन दर्ज किया।  उन्होंने प्रचालन के सभी क्षेत्रों में उत्कृष्ट निष्पादन हेतु आर आई एन एल-वी एस पी समूह को बधाई दी।  आज उक्कुनगरम में कंपनी के वरिष्ठ प्राधिकारियों को संबोधित करते हुए श्री रथ ने कंपनी के निष्पादन में समग्र विकास का उल्लेख किया और बताया कि आर आई एन एल ने क्रमश: 12%, 11% एवं 11% वृद्धि के साथ 5.77 मिलियन टन तप्त धातु, 5.52 मिलियन टन द्रव इस्पात एवं 5 मिलियन टन बिक्रीयोग्य इस्पात का उत्पादन किया।  कंपनी ने कुल विद्युत उत्पादन में 13% वृद्धि एवं श्रम उत्पादकता में 8% वृद्धि भी हासिल की।  श्री रथ ने कहा कि वर्ष के दौरान पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 400% वृद्धि के साथ 1700 का सकल  मार्जिन हासिल किया गया।  उन्होंने सभी धमन भट्ठियों में चूर्णित कोयला प्रेषण (पी सी आई) बढ़ाते हुए उत्पादन लागत में कमी लाने हेतु कर्मचारियों का आह्वान किया। उन्होंने बताया कि कोक ओवेन बैटरी-5, रायबरेली में स्थित फोर्ज्ड व्हील संयंत्र, ट्विन लैडल फर्नेस चालू वर्ष की पहली छमाही में शीघ्र प्रवर्तन हेतु तैयार हैं।  श्री रथ ने विश्वास जताया कि वर्ष 2019-20 के दौरान आर आई एन एल समूह अत्यंत बेहतर निष्पादन दर्ज करते हुए अपनी पुरानी छवि हासिल करेगा।  कार्यक्रम में निदेशक (वाणिज्य) श्री पी रायचौधरी, निदेशक (कार्मिक) श्री के सी दास, निदेशक (वित्त) श्री वी वी वेणुगोपाल राव, मुख्य सतर्कता अधिकारी श्री पी जे विजयकर, कार्यपालक निदेशकगण, महाप्रबंधक गण, विभागाध्यक्ष, स्टील एक्जेक्यूटिव असोसिएशन ,श्रमिक संघों के प्रतिनिधि उपस्थित थे। अन्य विशेषताएँ: वाणिज्य के क्षेत्र में आर आई एन एल ने उच्च मूल्यवर्धित इस्पात में 22% वृद्धि, अधिक माँगवाले उत्पादों का विकास, रेलवे के लिए 22 मिलिमीटर स्पिंग स्टील एवं आटोमोबाइल्स के लिए स्प्रिंग स्टील फ्लैट का उत्पादन किया। आर आई एन एल ने कोलंबो में अंतर्राष्ट्रीय कारोबार की शुरुआत की।  पोलवरम, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, रोतांग सुरंग, मेट्रो रेल परियोजना एवं आंध्रप्रदेश की राजधानी अमरावती का निर्माण आदि जैसे राष्ट्रीय महत्व की परियोजनाओं में वाइजाग स्टील के उत्पादों का उपयोग जारी रहा।   2019-20 का परिदृष्य, वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान 6.5 मिलियन टन तप्त धातु उत्पादन, 6.4 मिलियन टन द्रव इस्पात एवं 5.8 मिलियन टन बिक्रीयोग्य इस्पात एवं लगभग 25,000 करोड़ रुपये का कारोबार हासिल करने की आर आई एन एल की योजना है।  इससे पहले, निगमित कार्यनीति प्रबंधन विभाग (सी एस एम) ने 2018-19 की उपलब्धियों एवं चालू वित्त वर्ष 2019-20 के लिए ध्यान देने योग्य क्षेत्रों का उल्लेख करते हुए प्रस्तुतीकरण दिया।