आर आई एन एल ने 2019 में उल्लेखनीय प्रगति हासिल की: अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ    15-Aug-2019     Read in English


देशभक्ति की भावना के साथ देश भर में मनाए जाने वाले 73वें स्वतंत्रता दिवस समारोह में राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड-विशाखपट्टणम इस्पात संयंत्र भी शामिल हुआ|   आर आई एन एल–वी एस पी के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने उक्कुनगरम टाऊनशिप के विस्तृत तृष्णा मैदान में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवानों, होमगार्डों और स्कूली बच्चों से सुसज्जित सलामी गारद का निरीक्षण किया व सलामी ली। इस अवसर पर वी एस पी के कर्मचारियों एवं उनके परिवार के सदस्यों को संबोधित करते हुए श्री रथ ने कहा कि इस्पात उद्योग भारतीय अर्थव्यवस्था के अग्रणी घटकों में से एक है और अब भारत चीन के बाद दुनिया में ठोस इस्पात का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक बन गया है।  उन्होंने बताया कि इस समय देश में इस्पात की मांग थोड़ी सुस्त है, लेकिन इसमें तेजी लाने ले लिए केंद्रीय बजट, 2019 में बहुत प्रयास किया गया है । श्री रथ ने बताया कि वर्ष 2019 के दौरान राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड ने नई इकाइयों से उत्पादन में वृद्धि, धमन भट्ठी में चूर्णित कोयला प्रेषण में वृद्धि, कोक ओवन बैटरी-5 के तापन की शुरूआत, नई इकाइयों के जल की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए बनाए गए के बी आर – 2 जलाशय का प्रवर्तन, उत्तर प्रदेश के रायबरेली में स्थापित होनेवाली आर आई एन एल के फोर्ज्ड  व्हील प्लांट हेतु भारत में पहली बार 430 मिलिमीटर के राउंड का उत्पादन और पेद्दगंट्याडा में खुदरा बिक्री केंद्र का शुभारंभ में आदि उल्लेखनीय प्रगति की है।  श्री रथ ने कहा कि हालाँकि वर्तमान में कुछ चिंता के विषय मौजूद हैं।  कयोंकि वैश्विक अर्थव्यवस्था में मंदी के रुझान दीख रहे हैं और इसका असर भारत में भी महसूस किया जा रहा है।  फिर भी उन्होंने उम्मीद जताई कि यह स्वतंत्रता दिवस हममें आशाओं का संचार करेगा और संयंत्र अपनी गतिविधियों में तेजी लाकर नई ऊंचाइयों को छुएगा। उन्होंने कर्मचारियों का आह्वान करते हुए कहा कि आइए, हम ऐसी प्रतिबद्धता से काम करें कि यह कंपनी देश का गौरव बन जाए।  इस स्वतंत्रता दिवस समारोह में निदेशक (वित्त) श्री वीवी वेणुगोपाल राव,  निदेशक (वाणिज्य) श्री डी के मोहंती, मुख्य सतर्कता अधिकारी श्री पी जे विजयकर, केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के वरिष्ठ कमांडेंट जनाब इरफान अहमद, अधिक संख्या में कर्मचारी और उनके परिवार के सदस्य, श्रमिक संघों के नेता, केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवान आदि शामिल थे।  इस अवसर पर स्टील एक्जेक्यूटिव असोसिएशन, अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति एसोसिएशन, अन्य पिछड़ा वर्ग एसोसिएशन, विप्स, वी एम एस के सदस्य और बड़ी संख्या में स्कूली बच्चे उपस्थित थे।