डॉ बी आर अंबेड्कर जयंती मनाई गई    14-Apr-2020

वी एस पी में आज डॉ बी आर अंबेड्कर जयंती मनाई गई।  आर आई एन एल-वी एस पी के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने उक्कुनगरम में डॉ बी आर अंबेड्कर जयंती के अवसर पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करके उनके प्रति श्रधासुमन अर्पित किया।


और पढ़ें
राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड ने राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस मनाया    07-Mar-2020

आंध्र प्रदेश सरकार फैक्टरीज निदेशक श्री डी सी एस वर्मा ने वाइजाग स्टील के कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि हमें शून्य दुर्घटना लक्ष्य को हासिल करने हेतु ईमानदारी से हर संभव प्रयास करना चाहिए और साथ ही यह भी कहा कि इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए सबसे बड़ी चुनौती नवीनतम प्रौद्योगिकी विकास के द्वारा भटकाव को नियंत्रित करना है। उन्होंने कहा कि यदि एक बार हम इस लक्ष्य को हासिल कर लेते हैं तो स्वत: ही संयंत्र का सुधार हो जाएगा।  वे आज आर आई एन एल के सुरक्षा अभियांत्रिकी विभाग द्वारा उकुनगरम में आयोजित 49 वें राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस के अवसर पर मुख्य अतिथि थे। इस अवसर पर बोलते हुए श्री वर्मा ने मानवीय लापरवाहियों, व्यवहार में बदलाव और नियंत्रण की कमी के कारण होने वाली घटनाओं के कई उदाहरणों का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि हादसों से बचने के लिए निरंतर उपचारात्मक प्रयास किए जाने चाहिए । उन्होंने कहा कि सुरक्षा मानव जीवन और व्यवहार संबंधी दृष्टिकोण की एक सतत प्रक्रिया है।  आर आई एन एल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने कहा कि संयंत्र के निष्पादन को बड़े पैमाने पर परखा जाता है कि संयंत्र में कैसे श्रेष्ठतम सुरक्षित प्रचालन हो व नवीनतम तकनीक के उपयोग से सुरक्षित कार्य संस्कृति में बेहतर योगदान मिले।


और पढ़ें
आर आई एन एल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक द्वारा प्रशासनिक भवन में महात्मा गांधी जी की प्रतिमा का अनावरण    18-Feb-2020

माननीय केंद्रीय पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस मंत्री व इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने आज 38 वें गठन दिवस के अवसर पर आर आई एन एल समूह को राष्ट्र निर्माण में उनके सहयोग हेतु बधाई दी और उन्होंने आर आई एन एल समूह को राष्ट्र हित में अपना योगदान जारी रखने के लिए कहा।  उन्होंने इस अवसर की स्मृति में  पर्यावरण मैत्री इस्पात उत्पादन कौशल में सुधार लाने के सभी अवसरों को पहचानते हुए व्यावसायिक दक्षता के आधार पर संगठन की इस्पात उत्पादन क्षमता में सुधार लाने के सभी संभव पहलुओं को अपनाने में अपने को पुन: समर्पित करने हेतु आर आई एन एल समूह का आह्वान किया।  आर आई एन एल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने आज निदेशकों के साथ आर आई एन एल गठन दिवस (18 फरवरी) के अवसर पर मुख्य प्रशासनिक भवन के आगे बने लान में महात्मा गांधी जी की प्रतिमा का अनावरण किया।  इस अवसर पर श्री रथ एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने महात्मा गांधी जी को पुष्पांजलि अर्पित की।  गांधी जी की यह प्रतिमा आंतरिक कौशल से तैयार की गई है। इस प्रतिमा के पीछे 100 फीट ऊँचा तिरंगा झंडा फहर रहा है, जो मुख्य प्रशासनिक भवन के आकर्षण का प्रमुख केंद्र है।  इस अवसर पर श्री रथ ने यहाँ इस्पात संयंत्र की स्थापना के लिए जिन लोगों ने संघर्ष किया, उन सबके प्रति आभार व्यक्त किया। प्रतिमा बनाने एवं स्थापित करने के कार्य से जुड़े विभागों की प्रशंसा करते समय श्री रथ ने प्रतिमा की तैयारी में आर आई एन एल समूह के उत्साह, नवाचार एवं आंतरिक कौशल को याद किया।


और पढ़ें
इस्पात उद्योग के उबरने के आसार दीख रहे हैं: आर आई एन एल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक    26-Jan-2020

आर आई एन एल, विशाखपट्टणम इस्पात संयंत्र ने आज उक्कुनगरम में देशभक्ति की भावना के साथ गणतंत्र दिवस समारोह मनाया।  आर आई एन एल-वी एस पी के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने राष्ट्रीय झंडा फहराया, सलामी दी और टाउनशिप के तृष्णा ग्राउंड्स में केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवानों, होमगार्डों, उक्कुनगरम के स्कूली बच्चों की सलामी गारद का निरीक्षण किया।  बड़ी संख्या में उपस्थित कर्मचारियों एवं उनके परिवार के सदस्यों को संबोधित करते हुए श्री रथ ने माना कि आगामी पाँच वर्षों में इंडस्ट्रियल कॉरिडार, डेडिकेटेड फ्राइट कॉरिडार, भारत माला, सागर माला, स्मार्ट सिटी मिशन आदि जैसी परियोजनाओं से संबंधित मूलसंरचना के कार्यों में बृहद मात्रा में राशि व्यय करने के क्रम में लगभग 100 लाख करोड़ रुपये का आबंटन जैसे सरकार के प्रयासों से इस्पात की खपत प्रतिव्यक्ति बढ़ेगी।  श्री रथ ने यह भी कहा कि इन परियोजनाओं से ग्रामीण-शहरी क्षेत्रों की दूरी को पाटने एवं परिवहन संबंधी मूलसंरचना तथा इस्पात की खपत बढ़ाने में सहयोग मिलेगा।


और पढ़ें
एपिक-2020 ब्रोशर का विमोचन करते हुए आर आई एन एल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक: सी एस आई वार्षिक राष्ट्रीय सम्मेलन    24-Dec-2019

विशाखपट्टणम इस्पात संयंत्र के सहयोग से कंप्यूटर सोसायटी ऑफ इंडिया, विशाखपट्टणम चैप्टर के तत्वावधान में दो दिवसीय ‘कंप्यूटर सोसायटी ऑफ इंडिया के वार्षिक राष्ट्रीय सम्मेलन’ का आयोजन किया जा रहा है। सम्मेलन का विषय 'एड्ज कम्प्यूटिंग, प्रोसेस ऑटोमेशन थ्रू रोबोटिक्स, इंडस्ट्री 4.0 एण्ड कॉग्निटिव टेक्नॉलॉजी (EPIC)’ है। यह सम्मेलन विशाखपट्टणम में 20 और 21 फरवरी को आयोजित होगा। इस बृहद कार्यक्रम EPIC-2020 के ब्रोशर को मुख्य संरक्षक एवं आर आई एन एल – वी एस पी के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने कंप्यूटर सोसाइटी ऑफ इंडिया के कार्यकारी समिति एवं उनके सदस्यों की उपस्थिति में आज जारी किया। इसके अलावा, इस क्रम में इसके व्यापक प्रचार के लिए विकसित नई वेबसाइट www.csi-vizag.org/epic की भी उन्होंने शुरुआत की। इस अवसर पर श्री रथ  ने कहा कि वर्तमान परिदृश्य में यह एक प्रासंगिक विषय है तथा एड्ज कम्प्यूटिंग और प्रोसेस ऑटोमेशन निश्चित रूप से उद्योग में क्रांति लाएगा और लागत में कमी के लिए योगदान देगा।


और पढ़ें
वाइजाग स्टील ने संविधान दिवस मनाया    26-Nov-2019

आर आई एन एल-विशाखपट्टणम इस्पात संयंत्र समूह ने आज संविधान दिवस के अवसर पर सभी विभागों में ‘संविधान दिवस शपथ’ ग्रहण किया।


और पढ़ें
उक्कुनगरम में श्रीमती इंदिरा गांधी जयंती मनाई गई    19-Nov-2019

आर आई एन एल-विशाखपट्टणम इस्पात संयंत्र ने आज उक्कुनगरम में भारत के पूर्व प्रधान मंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी की जयंती मनाई। 


और पढ़ें
उक्कुनगरम में जवाहरलाल नेहरू जयंती मनाई गई    14-Nov-2019

आज उक्कुनगरम में पंडित जवाहरलाल नेहरू की 130वीं जयंती, जो ‘बाल दिवस’ के रूप में ख्यातिप्राप्त है, मनाई गई।  आर आई एन एल के कार्यपालक निदेशक (संकर्म) प्रभारी श्री के वी विद्या सागर ने पंडित नेहरू की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और इस अवसर पर स्वतंत्र भारत के पहले प्रधान मंत्री को श्रद्धांजलि अर्पित की।


और पढ़ें
अरुणोदया स्पेशल स्कूल में बाल दिवस मनाया गया    14-Nov-2019

स्वतंत्र भारत के प्रथम प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू की जन्मदिन के उपलक्ष्य में 14 नवंबर, 2019 को उक्कुनगरम के अरुणोदया स्पेशल स्कूल में बाल दिवस मनाया गया।


और पढ़ें
आर आई एन एल उच्च तकनीकी क्षमता से संपन्न है: श्री धर्मेंद्र प्रधान    09-Nov-2019

माननीय केंद्रीय पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस मंत्री एवं इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान के आज आर आई एन एल-विशाखपट्टणम में पहली बार आगमन पर उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया। मंत्री महोदय ने अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ के नेतृत्व में शीर्ष प्रबंधन एवं आर आई एन एल के निदेशकों के साथ मॉडल रूम, धमन भट्ठी-3, इस्पात गलन शाला-2, वायर रॉड मिल आदि का परिदर्शन किया और उन्हें संयंत्र एवं आर आई एन एल-वी एस पी के विस्तारण व आधुनिकीकरण में शामिल नवीनतम तकनीक से अवगत कराया गया।  श्री प्रधान ने उकुनगरम के मल्टी-पर्पज हॉल में संयंत्र के वरिष्ठ प्राधिकारियों को संबोधित किया। इस अवसर पर इस्पात मंत्री ने कहा कि आर आई एन एल उच्च तकनीकी क्षमता से संपन्न है और कर्मचारियों की क्षमता को पहले से ही इस्पात मंत्रालय द्वारा मान्यता मिली हुई है। कच्चेमाल संरक्षण के बारे में श्री प्रधान ने कहा कि आर आई एन एल निजी लौह अयस्क खदानों के अधिग्रहण एवं उत्पादन लागत कम करने हेतु प्रयास करता रहा है।


और पढ़ें
वी एस पी में सतर्कता जागरूकता सप्ताह का शुभारंभ    28-Oct-2019

आर आई एन एल-वी एस पी द्वारा जनसामान्य में ईमानदारी व सत्यनिष्ठा को बढ़ावा देने के क्रम में कर्मचारियों में जागरूकता लाने के उद्देश्य से सतर्कता जागरूकता सप्ताह 2019 (28 अक्टूबर से 2 नवंबर तक) मनाया जा रहा है। मुख्य सतर्कता आयोग ने सत्यनिष्ठा को प्रमुख मूल्य के रूप में आत्मसात करने की आवश्यकता पर बल देते हुए ‘सत्यनिष्ठा-एक जीवनशैली’ को इस वर्ष का विषय चुना है।


और पढ़ें
उक्कुनगरम में श्री टी अमृत राव की जयंती मनाई गई    21-Oct-2019

श्री टी अमृत राव की 99 वीं जयन्ती आज उकुनगरम में मनाई गई। आर आई एन एल के निदेशक (परियोजना) श्री के के घोष ने श्री अमृत राव की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर श्री घोष ने कहा कि श्री अमृत राव ने विशाखपट्टणम इस्पात संयंत्र की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।  इसलिए इस क्षेत्र के निवासियों द्वारा उन्हें याद किया जाता है।


और पढ़ें
आर आई एन एल ने एन आर डी सी के साथ समझौता करार किया    18-Oct-2019

आर आई एन एल – वी एस पी और भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अधीन एक अग्रणी प्रौद्योगिकी हस्तांतरण संगठन राष्ट्रीय अनुसंधान विकास निगम (एन आर डी सी) के बीच आज विशाखपट्टणम इस्पात संयंत्र में समझौता करार (एम ओ ए) पर हस्ताक्षर किया गया।


और पढ़ें
www.pmmementoes.gov.in पर स्मृति-चिह्न डिस्प्ले नीलामी    03-Oct-2019

प्रिय महोदय/महोदया, यह सूचित करते हुए हर्ष का अनुभव कर रहे हैं कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्राप्त ज्ञापिकाएँ राष्ट्र के नाम समर्पित की गई हैं।  सभी ज्ञापिकाएँ जयपुर हाउस, इंडिया गेट, नई दिल्ली के नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट (एन जी एम ए) में ‘स्मृति चिह्न’ शीर्षक से प्रदर्शनी में लगाई गई हैं।


और पढ़ें
आर आई एन एल ने 2019 में उल्लेखनीय प्रगति हासिल की: अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ    15-Aug-2019

देशभक्ति की भावना के साथ देश भर में मनाए जाने वाले 73वें स्वतंत्रता दिवस समारोह में राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड-विशाखपट्टणम इस्पात संयंत्र भी शामिल हुआ|   आर आई एन एल–वी एस पी के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने उक्कुनगरम टाऊनशिप के विस्तृत तृष्णा मैदान में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवानों, होमगार्डों और स्कूली बच्चों से सुसज्जित सलामी गारद का निरीक्षण किया व सलामी ली। इस अवसर पर वी एस पी के कर्मचारियों एवं उनके परिवार के सदस्यों को संबोधित करते हुए श्री रथ ने कहा कि इस्पात उद्योग भारतीय अर्थव्यवस्था के अग्रणी घटकों में से एक है और अब भारत चीन के बाद दुनिया में ठोस इस्पात का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक बन गया है।  उन्होंने बताया कि इस समय देश में इस्पात की मांग थोड़ी सुस्त है, लेकिन इसमें तेजी लाने ले लिए केंद्रीय बजट, 2019 में बहुत प्रयास किया गया है ।


और पढ़ें
माननीय केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते का वाइजाग स्टील में आगमन    08-Aug-2019

माननीय केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते 8 अगस्त, 2019 को पहली बार वाइजाग स्टील में पधारे। आर आई एन एल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ के नेतृत्व में आर आई एन एल के प्रबंधन ने हिल टॉप गेस्ट हाउस में उनके आगमन पर उनका भव्य स्वागत किया।  केंद्रीय इस्पात मंत्री ने विशाखा स्टील जनरल अस्पताल में ब्लड बैंक के अत्याधुनिक ब्लड कंपोनेंट सेपरेटर इक्विपमेंट का उद्घाटन किया (इस इक्विपमेंट से खून के एक बैग से पैक्ड सेल्स, प्लेटलेट्स, एफ एफ टी और क्रियोप्रेसिपिटेट आदि कंपोनेंट्स की चार जरूरतमंद लोगों की आवश्यकताओं की पूर्ति होती है)।  उन्होंने अपने संयंत्र दौरे के समय संयंत्र का मॉडल रूम व अवार्ड गैलरी, कोक ओवेन बैटरी, धमन भट्ठी-3, इस्पात गलन शाला-2 और वॉयर रॉड मिल-2 का संदर्शन किया।


और पढ़ें
आर आई एन एल-वी एस पी के निदेशक (वाणिज्य) श्री डी के मोहंती     01-Aug-2019

श्री देब कल्याण मोहंती ने 1 अगस्त, 2019 को नये निदेशक (वाणिज्य) का कार्यभार ग्रहण किया।  इस दायित्व से पहले श्री मोहंती ने स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) के अध्यक्ष सचिवालय में  कार्यपालक निदेशक के रूप में सेवा की।  वे बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से मेटीरियल साइंस व टेक्नॉलॉजी में एम टेक डिग्री धारक हैं।


और पढ़ें
वाइजाग स्टील में विश्व पर्यावरण दिवस समारोह मनाया गया    05-Jun-2019

वाइजाग स्टील में विश्व पर्यावरण दिवस बड़े पैमाने पर मनाया गया। इस अवसर पर वाइजाग स्टील के पर्यावरण प्रबंधन विभाग द्वारा पूरे महीने में आयोजित कार्यक्रमों के समापन के उपलक्ष्य में आज संयंत्र के तकनीकी प्रशिक्षण संस्थान के प्रेक्षागृह में एक भव्य समारोह आयोजित किया गया।  आर आई एन एल-वी एस पी के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि और आंध्र प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण मंडल के वरिष्ठ पर्यावरण अभियंता श्री पी रवींद्रनाथ सम्मान्य अतिथि थे।  इस अवसर पर श्री रवींद्रनाथ ने कहा कि घरेलू, उद्योग, परिवहन एवं कृषि जैसे मानवीय हस्तक्षेप प्रदूषण के प्रमुख स्रोत बने हुए हैं।   इनका एन जी टी व सी पी सी बी जैसी हमारी अद्यतन सरकारी नीतियों के माध्यम से सावधानी से नियंत्रण किया जाता है। 


और पढ़ें
सचिव (इस्पात) श्री बिनय कुमार का वी एस पी भ्रमण     26-Apr-2019

इस्पात मंत्रालय, भारत सरकार के सचिव (इस्पात) श्री बिनय कुमार के आर आई एन एल-विशाखपट्टणम इस्पात संयंत्र में पहली बार आगमन पर आज गर्मजोशी से उनका स्वागत किया गया।  उनके साथ इस्पात मंत्रालय की संयुक्त सचिव सुश्री रुचिका चौधरी गोविल, इस्पात मंत्रालय के निदेशक श्री नीरज अग्रवाल और इस्पात मंत्रालय के अवर सचिव श्री एस के सिंह पधारे हुए थे।  उच्चस्तरीय समूह द्वारा कोक ओवेन, धमन भट्ठी, इस्पात गलन शाला एवं रोलिंग मिल्स आदि जैसे विस्तारण व आधुनिकीकरण इकाइयों सहित प्रमुख उत्पादन इकाइयों का संदर्शन किया गया।


और पढ़ें
उक्कुनगरम में डॉ अंबेड्कर जयंती समारोह संपन्न    14-Apr-2019

विशाखपट्टणम इस्पात संयंत्र की निगमित इकाई, आर आई एन एल ने राष्ट्र के साथ मिलकर आज उक्कुनगरम में डॉ बी आर अंबेड्कर की 128 वीं जयंती मनाई|  आर आई एन एल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री पी के रथ ने भारतरत्न डॉ बी आर अंबेड्कर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और उनके प्रति सम्मान व्यक्त किया  श्री रथ ने इस अवसर पर कहा कि डॉ अंबेड्कर बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी, एक समाज सुधारक, विधिवेत्ता, बेहतर वक्ता, विद्वान एवं विचारक थे| 


और पढ़ें